India

रिपोर्ट: मोदी राज में बढ़ा पत्रकारों का खौफ़, कम हुई आज़ादी

रिपोर्ट

नई दिल्ली: “प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राज में हिन्दू राष्ट्रवादी संगठनों की ओर से मिलने वाली धमकियों के कारण भारतीय पत्रकारों की स्वतंत्रता कम हुई है|” ये हमारा नहीं बल्कि स्वतंत्र पत्रकारिता को बढ़ावा देने वाले अंतराष्ट्रीय एनजीओ (गैर सरकारी संगठन) ‘रिपोर्ट्स विदाउट बॉर्डर्स’ का कहना है|

दरअसल, हाल ही में आई एनजीओ की एक वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, इस बार भारत ‘वर्ल्ड प्रेस फ्रीडम इंडेक्स’ में 136वें स्थान पर है, जबकि पिछले साल देश की रैंकिंग 133 थी| इसके अलावा रिपोर्ट में पूरे विश्व में मीडिया की स्थिति पर चिंता जताई गई है| रिपोर्ट में यहां तक कहा गया है कि भारत के मौजूदा हालात में सरकार का खुलकर विरोध या आलोचना करने वाले पत्रकारों की आवाज़ दबाने के लिए उनके ख़िलाफ़ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कराने जैसी धमकियां तक दी जाती हैं|

भारत के अलावा और देशों की बात करें तो अमरीका को इस सूची में 43वां, न्यूज़ीलैंड को 13वां और कनाडा को 22वां स्थान दिया गया है| एनजीओ द्वारा किए गए सर्वे की इस रिपोर्ट में नॉर्वे को सबसे ज़्यादा स्वतंत्र मीडिया वाला मुल्क बताया गया है, वहीं सूची में स्वीडन को दूसरा और फ़िनलैंड को तीसरा स्थान दिया गया है|

 ये भी पढ़ें: MCD चुनाव परिणाम: राजधानी पर भी छाया ‘मोदी मैजिक’… खिल उठा कमल

loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top