India

खुलेआम घूम रहे है पत्रकार के घर डकैती डालने वाले बदमाश, पीड़ित पत्रकार का परिवार है भयभीत

लखनऊ। संवाददाता, पत्रकार के घर हुई डकैती की वारदात को 24 घंटो से ज़्यादा का समय बीत गया लेकिन पुलिस अभी तक एक भी आरोपी को गिरफतार नही कर सकी है । प्रदेश मे कानून व्यवस्था का हाल इतना बुरा हो गया है कि अब दंबग आम जनता को तो छोड़िए लोकतंत्र के चैथे स्तम्भ के प्रहरी पत्रकारो को भी निशाना बनाने मे खौफ नही खा रहे है । बदहाल कानून व्यवस्था का जीता जागता उदाहरण रविवार को मलिहाबाद के मिर्जागंज मे देखने को मिला जब एक पुराने अपराधी के पुत्र ने अपने साथियो के साथ मिल कर एक हिन्दी दैनिक समाचार पत्र के पत्रकार इमरान अहमद के घर के अन्दर घुस कर घर मे मौजूद महिलाओ और पत्रकार के भाई से मारपीट कर जमकर लूटपाट की और घर का सामान तोड फोड दिया । पत्रकार के घर सरे शाम हुई डकैती की इस सनसनीखेज़ घटना की सूचना पाकर एसएसपी दीपक कुमार ने तत्काल एक्शन लिया और मलिहाबाद पुलिस को तत्काल कार्यवाही के आदेश भी दिए एसएसपी के आदेश के बाद मलिहाबाद पुलिस हरकत मे आई और मामले की गम्भीरता को देखते हुए आरोपियों के खिलाफ डकैती का मुकदमा दर्ज कर लिया । पुलिस की सक्रीयता मुकदमा लिखने तक ही सीमित नज़र आई पत्रकार के घर मे डकैती की वारदात को अन्जाम देने वाले एक भी बदमाश को पुलिस अभी तक गिरफतार नही कर सकी है। इन्स्पेक्टर मलिहाबाद टीपी सिंह का कहना है कि मुकदमा डकैती की धारा मे दर्ज कर लिया गया है आरोपियो की गिरफ्तारी का प्रयास जारी है हालाकि पुलिस डकैती की इस वारदात को गाड़ी ओवर टेक करने के मामूली विवाद से जोड़ कर देख रही है । इन्स्पेक्टर ने फायरिंग की बात को पूरी तरह से खारिज कर दिया है । पीड़ित पत्रकार इमरान अहमद का कहना है पुलिस ने एक ही धारा मे पूरी घटना को समेट दिया उनका कहना है कि जिस तरह से अपराधाी मुन्ना खा के पुत्र अली खान नेे सलमान खान , ज़ैद खान व अन्य साथियो के साथ मिल कर हमारे घर पर ताडव कर लूटपाट मारपीट कर फायरिंग की उससे हमारा पूरा परिवार डरा हुआ है । इमरान का कहना है कि आरोपी खुलेआम घूम रहे है और उनके परिजन हमारे परिवार पर सुलह करने के लिए दबाव बना रहे है उन्होने मलिहाबाद पुलिस की लचर कार्यवाही पर सवाल उठाते हुए आरोपियो से अपनी व अपने परिवार की जान को खतरा भी बताया है।

हत्या आरोपी का बेटा है डकैती का मुख्य आरोपी

रविवार की रात मलिहाबाद के मिर्जागंज मे पत्रकार इमरान अहमद के घर हुई डकैती के मुख्य आरोपी अली खान का पिता मुन्ना खान एक दशक पूर्व लखनऊ मे वज़ीरगंज थाना क्षेत्र मे हुए एक छा़त्र नेता की हत्या के मामले मे जेल भी जा चुका है। पीड़ित पत्रकार का कहना है कि जिसका पिता हत्या का आरोपी रह चुका है उसका पुत्र हमारे परिवार पर दोबारा कभी भी हमला करवा सकता है।

डकैती के मुख्य आरोपी ने तहसील मे किया था तांडव

पत्रकार इमरान अहमद के घर मे अपने साथियो के साथ मिल कर डकैती की वारदात को अन्जाम देकर असलहे लहराते हुए आराम से फरार होने वाला अली खान इतना दंबग है कि एक सप्ताह पूर्व उसने अपने साथियो के साथ मिल कर थाने से चन्द क़दम की दूरी पर स्थित तहसील परिसर मे ताडंव मचाया था कुछ लोगो को उसने दौड़ा दौड़ा की पीटा था। इमरान के मुताबिक पीड़ितो ने थाने मे रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी लेकिन कार्यवाही न होने की वजह से दबंग के हौसले बुलन्द है।

आरोपियो की गिरफतारी न हुई तो प्र्रदर्शन करेंगे पत्रकार

यूनाईटेड पत्रकार एसोसिएशन यूपीए ने पत्रकार इमरान अहमद के घर हुई इस सनसनी खेज़ वारदात को गम्भीरता से लिया है। यूपीए के अध्यक्ष कायम रज़ा राहिल ने इस मुददे पर बोलते हुए कहा है कि हमारा संगठन हमेशा ही पत्रकारो के हक़ और उनकी सुरक्षा मुददे को मज़बूती से उठाता रहा है । उन्होने कहा कि इमरान के घर पर डकैती की वारदात को अन्जाम देने वाले चाहे जितने भी रसूकदार क्यूं न हो उनकी गिरफतारी होनी चाहिए उन्होने कहा कि अपराध चाहे आम इन्सान करे या रसूकदार करे अपराधी को एक नज़र से देखना चाहिए उन्होने कहा कि पुलिस ने अगर जल्द ही आरोपियो की गिरफतारी न की तो यूपीए धरना प्रदर्शन भी कर सकता है। श्री0 राहिल ने कहा कि बदहाल कानून व्यवस्था का वही हाल है जो पूर्व की सरकार मे था यूपीए ने पूर्व की सरकार से भी पत्रकारो की सुरक्षा की माॅग की थी और अपनी माॅग को मौजूदा सरकार के सामने भी दोहराया है लेकिन पत्रकार सुरक्षा के लिए न पूर्व की सरकार ने कोई कदम उठाया और न मौजूदा सरकार ने जो लोकतंत्र के लिए घातक है। श्री0 राहिल ने कहा है कि एसोसिएशन जल्द ही अपने पदाधिकारियों के साथ बैठक कर पत्रकारो की सुरक्षा और सुविधाओ के लिए संघर्ष की रणनिति पर विचार करेगी।

कददावर नेता की शरण मे गया आरोपी का परिवार

सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार पत्रकार इमरान अहमद के घर डकैती डालने के मुख्य आरोपी अली खान का परिवार एक बड़े नेता के दरबार मे पहुॅच गया है। आरोपी का परिवार कददावर नेता की शरण मे जाकर उनसे पीड़ित परिवार से समझौता कराने का दबाव बनवा रहा है

loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top